व्यवहारवाद

  व्यवहारवाद (Behaviouralism)                          CONTENT परिचय व्यवहारवाद का विकास व्यवहारवाद का स्वरूप और व्याख्या व्यवहारवाद की उपयोगिता या प्रभाव व्यवहारवाद की आलोचना परिचय – व्यवहारवाद या व्यवहारवादी उपागम राजनीतिक तथ्यों की व्याख्या और विश्लेषण करने का एक विशेष तरीका है, जिसे द्वितीय महायुद्ध के …

व्यवहारवाद Read More »

निर्वाचन आयोग

        निर्वाचन आयोग (election commison)   निर्वाचन आयोग एक स्थाई एवं स्वतंत्र निकाय है। इसका गठन भारत के संविधान द्वारा देश में स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव संपन्न कराने के उद्देश्य से किया गया था। संविधान के अनुच्छेद 324 के अनुसार संसद, राज्य विधानमंडल, राष्ट्रपति व उपराष्ट्रपति के पदों के निर्वाचन के लिए …

निर्वाचन आयोग Read More »

डेविड ईस्टन का निवेश निर्गत विश्लेषण

      डेविड ईस्टन का निवेश निर्गत विश्लेषण डेविड ईस्टन ने आधुनिक काल में इस पद्धति का प्रतिपादन किया, जो उनका महत्वपूर्ण योगदान माना जाता है। उन्होंने अपने निवेश निर्गत विश्लेषण में राजनीतिक व्यवस्था को उसके पर्यावरण के संदर्भ में देखने की कोशिश की है। उनका मानना है कि पर्यावरण से निवेश के रूप …

डेविड ईस्टन का निवेश निर्गत विश्लेषण Read More »

लोक प्रशासन : अर्थ, प्रकृति, उपागम

लोक प्रशासन : अर्थ, प्रकृति, उपागम                          CONTENT परिचय,अर्थ,परिभाषाएं  प्रकृति लोक प्रशासन के अध्ययन के उपागम  लोक प्रशासन का विकास   1) परिचय – ‘लोक प्रशासन’ प्रशासन की एक अधिक व्यापक अवधारणा का ही एक पहलू है। इसलिए लोक प्रशासन का अर्थ समझने से …

लोक प्रशासन : अर्थ, प्रकृति, उपागम Read More »

भारत का राष्ट्रपति

  भारत का राष्ट्रपति ( president of India )                                          CONTENT  परिचय राष्ट्रपति पद हेतु योग्यताएं राष्ट्रपति की निर्वाचन प्रक्रिया कार्यकाल महाभियोग की प्रक्रिया राष्ट्रपति की शक्तियां सामान्यकालीन शक्तियां , संकटकालीन शक्तियां |     परिचय …

भारत का राष्ट्रपति Read More »

M.M. punchhi commission-एम.-एम-पुंछी-आयोग

  M.M. punchhi commission – एम. एम. पुंछी आयोग     अप्रैल 2007 में केंद्र सरकार ने केंद्र राज्य संबंधों की समीक्षा के लिए उच्चतम न्यायालय के भूतपूर्व मुख्य न्यायाधीश मदन मोहन पंछी की अध्यक्षता में एक आयोग का गठन किया| इस आयोग का गठन इसलिए किया गया था कि दो दशक पहले गठित सरकारिया …

M.M. punchhi commission-एम.-एम-पुंछी-आयोग Read More »

Sarkaria Commission-सरकारिया आयोग

   Sarkaria Commission  (सरकारिया आयोग)   1983 में केंद्र सरकार ने उच्चतम न्यायालय के सेवानिवृत्त न्यायाधीश आर.एस. सरकारिया के अध्यक्षता में केंद्र राज्य संबंधों पर एक तीन सदस्यीय आयोग का गठन किया। आयोग से कहा गया कि वह केंद्र और सरकार के बीच सभी व्यवस्थाओं व कार्य पद्धतियों का परीक्षण करे और इस संबंध में …

Sarkaria Commission-सरकारिया आयोग Read More »

Emergency Provisions – आपातकालीन उपबंध

  Emergency Provisions (आपातकालीन उपबंध)                                    CONTENT परिचय राष्ट्रीय आपातकाल(अनुच्छेद 352) राष्ट्रपति शासन (अनुच्छेद 356) वित्तीय आपातकाल (अनुच्छेद 360) आपातकालीन उपबंधों की आलोचना     परिचय – संविधान के भाग 18 में अनुच्छेद 352 से 360 तक आपातकालीन उपबंध …

Emergency Provisions – आपातकालीन उपबंध Read More »

संसदीय-व्यवस्था

  Parliamentary System (संसदीय व्यवस्था)                   CONTENT: परिचय संसदीय सरकार की विशेषताएं संसदीय व्यवस्था के गुण संसदीय व्यवस्था के दोष परिचय – भारत का संविधान केंद्र और राज्य दोनों में सरकार के संसदीय स्वरूप की व्यवस्था करता है। अनुच्छेद 74 और 75 केंद्र में संसदीय व्यवस्था का उपबंध …

संसदीय-व्यवस्था Read More »

राज्य के नीति निर्देशक तत्व

  राज्य के नीति निर्देशक तत्व (directive pricnciples of the state policy)                 CONTENT : परिचय नीति निदेशक तत्वों का अर्थ एवं स्वरूप संविधान में वर्णित नीति निदेशक तत्व नीति निदेशक तत्व की आलोचना परिचय – नीति निदेशक तत्वों की व्यवस्था हमारे संविधान की प्रमुख विशेषता है। भारतीय संविधान के …

राज्य के नीति निर्देशक तत्व Read More »

x