ऑस्टिन का संप्रभुता सिद्धांत

ऑस्टिन का संप्रभुता सिद्धांत संप्रभुता के वैधानिक सिद्धान्त का सर्वोत्तम विश्लेषण जॉन ऑस्टिन ने 1832 में प्रकाशित अपनी पुस्तक विधानशास्त्र पर व्याख्यान’ (Lecturers on Jurisprudence) में किया है। आस्टिन, हॉब्स और बेंथम के विचारों से बहुत अधिक प्रभावित था और उसका विचार था कि “उच्चतर द्वारा निम्नतर को दिया गया आदेश ही कानून होता है। …

ऑस्टिन का संप्रभुता सिद्धांत Read More »